Tag: हिमाचल के मंदिर

मणिकर्ण मंदिर – मणिकर्ण की यात्रा – गुरूद्वारा मणिकर्ण साहिब

मणिकर्ण, यह प्रसिद्ध तीर्थ स्थल हिमालय के चरणो मे हारिन्द्र नामक सुरम्य पर्वत श्रृंखला (कुल्लू घाटी) मे पर्वतो और व्यास नदियों की धाराओं के बीच है। इसके पश्चिम में शीतल एवं गर्म जल के सरोवर और पूर्व मे ब्रह्मगंगा है। मणिकर्ण...

Chamunda devi tample – चामुण्डा देवी का मंदिर कांगडा हिमाचल प्रदेश

श्री महापुराण की कथा के अनुसार सती पार्वती के शव को लेकर जब भगवान शिव तीनो लोको का भ्रमण कर रहे थे तो भगवान विष्णु ने उनका मोह दूर करने के लिए सती के शव को अपने सुदर्शन चक्र से काट...

वज्रेश्वरी देवी मंदिर नगरकोट धाम कांगडा हिमाचल प्रदेश – कांगडा देवी मंदिर

हिमाचल प्रदेश के कांगडा में स्थित माता वज्रेश्वरी देवी का प्रसिद्ध मंदिर है। यह स्थान जनसाधारण में नगरकोट कांगडे वाली देवी के नाम से भी प्रसिद्ध है। यहा दर्शन किए बिना यात्रा सफल नही मानी जाती है। यवनो ने यहा अनेको...

चिन्तपूर्णी देवी मंदिर ऊना हिमाचल प्रदेश – चिन्तपूर्णी माता की कहानी

हिमाचल प्रदेश राज्य को देवी भूमी भी कहा जाता है। क्योकि प्राचीन काल से ही यहा की पवित्र धरती पर देवताओ का वास रहा है। इसी पवित्र धरती पर हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले में माता चिन्तपूर्णी देवी मंदिर व चिन्तपूर्णी देवी...

ज्वाला देवी मंदिर कांगडा हिमाचल प्रदेश – जोत वाली माता – ज्वाला देवी की कहानी

हिमाचल प्रदेश के कांगडा जिले में कालीधार पहाडी के बीच श्री ज्वाला देवी जी का प्रसिद्ध मंदिर है। यह धूमा देवी का स्थान है। इसकी मान्यता 51 शक्तिपीठो में सर्वोपरि है। कहा जाता है कि यहां पर भगवती सती की महाजिव्हा गिरी तथा...

Naina devi tample bilaspur – नैना देवी मंदिर बिलासपुर – नैना देवी की कथा

हिमाचल प्रदेश के जिला बिलासपुर में स्थित प्रसिद्ध नैना देवी मंदिर (naina devi tample bilaspur) भारत भर में अपने श्रृद्धालुओ में काफी प्रसिद्ध है तथा हिमाचल प्रदेश के धार्मिक स्थलो में महत्वपूर्ण स्थान रखता है। यह स्थान पंजाब की सीमा से काफी...