Tag: वीरांगना

रामप्यारी दासी का मेवाड़ राज्य के लिए बलिदान की कहानी

भारत के आजाद होने से पहले की बात है। राजस्थान कई छोटे बडे राज्यों में विभाजित था। उन्हीं में एक राज्य मेवाड़ भी था। मेवाड़ की राजधानी उदयपुर थी। राजस्थान में राज्य का शासन राजा के हाथ में होता था। उस...

अच्छन कुमारी पृथ्वीराज चौहान की पत्नी की वीरगाथा

अच्छन कुमारी चंद्रावती के राजा जयतसी परमार की पुत्री थी। ऐसा कोई गुण नहीं था, जो अच्छन में न हो। वह बडी सुंदर, चतुर, धर्मात्मा और सुशील स्त्री थी। अभी जब वह छोटी ही थी, एक दिन हंसी हंसी में उनके...

कर्पूरी देवी कौन थी, क्या आप राजमाता कर्पूरी के बारे मे जानते है

राजस्थान में एक शहर अजमेर है। अजमेर के इतिहास को देखा जाएं तो, अजमेर शुरू से ही पारिवारिक रंजिशों का तथा अनेक प्रकार के षड्यंत्रो का केंद्र रहा है। अजमेर में पृथ्वीराज द्वितीय राज्य करते थे। उनके कोई संतान न थी।...

रानी कर्णावती की जीवनी – रानी कर्मवती की कहानी

रानी कर्णावती कौन थी? अक्सर यह प्रश्न रानी कर्णावती की जीवनी, और रानी कर्णावती का इतिहास के बारे मे रूची रखने वालो के मस्तिष्क मे जरूर आता है। रानी कर्णावती जिन्हें एक और नाम रानी कर्मवती के नाम से भी जाना...

जीजाबाई की जीवनी – जीजाबाई बायोग्राफी इन हिन्दी

अंग्रेजों के अत्याचार से सारा देश आक्रांत था । अन्याय और अधर्म की काली छाया समाज की पवित्रता को ढक चुकी थी। यह देखकर जीजाबाई का हृदय रो उठता था । उन्होंने अनुभव किया कि जब तक स्वराज्य स्थापित नहीं होगा...

कालीबाई की जीवनी – कालीबाई का जीवन परिचय व हिस्ट्री

आज के अफने इस लेख मे हम एक ऐसी गुरू भक्ता के बारे मे जाने। जिसने अपने प्राणो की आहुति देकर अपने गुरु के प्राणो की रक्षा की थी। जिसे आधुनिक युग का एकलव्य के नाम से भी संबोधित किया जाता...

कमला नेहरू की जीवनी – कमला नेहरू का जीवन परिचय

कमला नेहरू गांव गांव घूमकर स्वदेशी का प्रचार करती थी। वे गांवों में घर घर जाती थी। स्त्रियों से मिलती थी, और उन्हें समझाती थी कि अपने देश का ही बना हुआ कपडा पहनना चाहिए। इससें देश की गरीबी दूर होगीं...

सरोजिनी नायडू की जीवनी- सरोजिनी नायडू के बारे में जानकारी

सरोजिनी नायडू महान देशभक्त थी। गांधी जी के बताए मार्ग पर चलकर स्वतंत्रता के लिए संघर्ष करने वालो में उनका महत्वपूर्ण स्थान था। उनमें देशप्रेम, साहस और शौर्य तो था ही,कवि की कोमल भावनाएं भी थी। वे उच्चकोटि की कवयित्री भी...

इंदिरा गांधी की जीवनी, त्याग, बलिदान, साहस, और जीवन परिचय

इंदिरा गांधी का जन्म 19 नवंबर सन् 1917 को उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद मे हुआ था। जहां इंदिरा गांधी के पिता पंडित जवाहर लाल नेहरू और माता कमला नेहरू इस बालिका को पाकर झूम उठे थे, वही नेहरू परिवार का आनंद...