Tag: बायोग्राफी

अमर्त्य सेन की बायोग्राफी – अमर्त्य सेन की जीवनी,नोबेल पुरस्कार, सिद्धांत

क्या गरीब होना किस्मत की बात है? क्या अकाल से होने वाली मौतों को किसी भी प्रकार रोका या कम किया जा सकता है? क्यो आज भी विश्व के अधिकांश देश भूखमरी और कुपोषण जैसी गंभीर समस्या से ग्रस्त है, जबकि वे खाद्यान्न के...

वेंकटरमन रामकृष्णन का जीवन परिचय – वेंकटरमन रामकृष्णन महिती इन हिन्दी

एक बार फिर अरबों भारतवासियों के होठों पर आत्म स्वाभिमान की मुस्कराहट खिल उठी। एक बार फिर सारा देश अपनी माटी के एक सपूत की असाधारण ऊपब्धि पर झूम उठा एक बार फिर तिरंगा आसमान में गर्व और उत्साह से लहराकर...

वारिस अली शाह देवा शरीफ – हाजी वारिस अली शाह बायोग्राफी इन हिन्दी

हाजी वारिस अली शाह 1819 से 1905 की अवधि के एक मुस्लिम सूफी संत रहे है। वारिस अली शाह का जन्म 1819 देवा शरीफ, बारांबंकी, उत्तर प्रदेश में हुआ था। सात साल की उम्र मे वारिस पाक कुरान हिफ्ज़ (कंठस्थ) कर...

आई एम विजयन बायोग्राफी इन हिन्दी, आई एम विजयन भारतीय फुटबॉलर

1999 के सैफ खेलों में सबसे तेजी से अंतरराष्ट्रीय गोल बनाने वाले फुटबॉल खिलाड़ी आई एम विजयन का पूरा नाम इंवलप्पिल मनी विजयन है। आई एम विजयन का जन्म 25 अप्रैल 1969 को त्रिशूर केरल में हुआ था। विजयन भारतीय फुटबॉल...

चुनी गोस्वामी भारतीय फुटबॉल खिलाड़ी – चुनी गोस्वामी बायोग्राफी इन हिन्दी

चुनी गोस्वामी का जन्म 15 जनवरी 1938 को किशोरगंज पश्चिम बंगाल में हुआ था। चुनी गोस्वामी एक महान फुकबॉलर है। उनका नाम भारतीय फुटबॉल के इतिहास में बहुत सम्मान के साथ लिया जाता है। उन्होंने 1962 के जकार्ता एशियाई खेलों में...

जरनैल सिंह फुटबॉल एथलीट – जरनैल सिंह का जीवन परिचय

जरनैल सिंह का पूरा नाम जरनैल सिंह ढिल्लों है। वे भारत के फुटबॉल के एक अत्यंत सफल खिलाड़ी रहे है। जरनैल सिंह का जन्म 1936 में पनाम, जिला होशियारपुर पंजाब में हुआ था। जरनैल सिंह फुटबॉल फुटबॉल के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों में...

प्रदीप कुमार बनर्जी फुटबॉल खिलाड़ी – प्रदीप कुमार बनर्जी बायोग्राफी

जमशेदपुर निवासी प्रदीप कुमार बनर्जी भारतीय फुटबॉल में एक प्रसिद्ध व्यक्ति हैं। उन्होंने 1962 के एशियाई खेलों में फाइनल में भारत की और से पहला गोल दागा था। और इसी के बदौलत भारत ने स्वर्ण पदक जीता था। उनकी गिनती 1955...

हरभजन सिंह का जीवन परिचय – हरभजन सिंह बायोग्राफी इन हिंदी

हरभजन सिंह, जिन्हें ‘भज्जी’ और ‘टर्बनेटर’ के नाम से जाना जाता है, एक भारतीय क्रिकेटर हैं, जो श्रीलंका के मुथैया मुरलीधरन के बाद टेस्ट में दूसरे सबसे अधिक विकेट लेने वाले ऑफ स्पिनर हैं। भज्जी घरेलू क्रिकेट में पंजाब का प्रतिनिधित्व...

सुब्रह्मण्यम चंद्रशेखर की जीवनी – सुब्रमण्यम चंद्रशेखर नोबेल पुरस्कार विजेता

सुब्रह्मण्यम चंद्रशेखर एक महान खगोल वैज्ञानिक थे। सुब्रमण्यम चंद्रशेखर को खगोल विज्ञान के के क्षेत्र में किए गए उनके महान खोजो व कार्यों के लिए 1983 में विश्व का सबसे प्रतिष्ठित नोबेल पुरस्कार (Nobel Prize) प्रदान किया गया था। अपने इस लेख...

मदर टेरेसा की जीवनी – मदर टेरेसा जीवन परिचय, निबंध, योगदान

मदर टेरेसा कौन थी? यह नाम सुनते ही सबसे पहले आपके जहन में यही सवाल आता होगा। मदर टेरेसा यह वो नाम हैं जिसे भारत का बच्चा बच्चा जानता है। क्योंकि स्कूलों के पाठयक्रमों मे मदर टेरसा के बारें में पढ़ाया...

डॉक्टर हरगोविंद खुराना की जीवनी – डॉक्टर हरगोविंद खुराना जीवन परिचय

डॉक्टर हरगोविंद खुराना का जीवन परिचय— सन् 1930 में भौतिकी विज्ञान के क्षेत्र में पाने वाले पहले भारती वैज्ञानिक चंद्रशेखर वेंकटरमन ने एक बार कहा था, कि भारत में मेरे जैसे न जाने कितने ही रमन भरे पड़े है। किंतु आवश्यक...

रानी प्रभावती एक सती स्त्री की वीरता, सूझबूझ की अनोखी कहानी

रानी प्रभावती वीर सती स्त्री गन्नौर के राजा की रानी थी, और अपने रूप, लावण्य व गुणों के कारण अत्यंत प्रसिद्ध थीं। इनकी सुंदरता पर मुग्ध होकर एक यवन बादशाह ने गन्नौर पर चढाई कर दी। यह समाचार पाकर रानी प्रभावती...

रानी जवाहर बाई की बहादुरी जिसने बहादुरशाह की सेना से लोहा लिया

सन् 1533 की बात है। गुजरात के बादशाह बहादुरशाह जफर ने एक बहुत बड़ी सेना के साथ चित्तौड़ पर आक्रमण कर दिया। उस समय कायर और विलासप्रिय राणा विक्रमादित्य चित्तौड़ की गददी पर था। रानी जवाहर बाई इसी कायर की राजरानी...

कर्पूरी देवी कौन थी, क्या आप राजमाता कर्पूरी के बारे मे जानते है

राजस्थान में एक शहर अजमेर है। अजमेर के इतिहास को देखा जाएं तो, अजमेर शुरू से ही पारिवारिक रंजिशों का तथा अनेक प्रकार के षड्यंत्रो का केंद्र रहा है। अजमेर में पृथ्वीराज द्वितीय राज्य करते थे। उनके कोई संतान न थी।...

राजबाला की वीरता, साहस, और प्रेम की अदभुत कहानी

राजबाला वैशालपुर के ठाकुर प्रतापसिंह की पुत्री थी, वह केवल सुंदरता ही में अद्वितीय न थी, बल्कि धैर्य और चातुर्यादि गुणो में भी कोई उनके समान न था। अपने पति को वह प्राणों से अधिक प्यार करतीं थी, और जीवन भर...