Tag: तीर्थ स्थल

अयोध्या का इतिहास – अयोध्या के दर्शनीय स्थल और महत्व

अयोध्या भारत के राज्य उत्तर प्रदेश का एक प्रमुख शहर है। कुछ सालो से यह शहर भारत के सबसे चर्चित शहरो में से भी एक रहा है। जिसका कारण यहा राम मंदिर और बाबरी मस्जिद विवाद है। और यह विवाद अयोध्या का...

कोणार्क सूर्य मंदिर का इतिहास – कोणार्क सूर्य मंदिर का रहस्य

कोणार्क’ दो शब्द ‘कोना’ और ‘अर्का’ का संयोजन है। ‘कोना’ का अर्थ है ‘कॉर्नर’ और ‘अर्का’ का मतलब ‘सूर्य’ है, इसलिए जब यह जोड़ता है तो यह ‘कोने का सूर्य’ बन जाता है। कोणार्क सूर्य मंदिर पुरी के उत्तर पूर्वी कोने...

ब्रह्म सरोवर कुरूक्षेत्र एशिया का सबसे बडा सरोवर

भारत के राज्य हरियाणा में स्थित कुरूक्षेत्र भारत के प्राचीनतम नगरो में से एक है। इसकी प्राचीनता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि यह स्थान भारत के इतिहास के सबसे भीषण युद्ध महाभारत गवाह रहा है। कौरवो और...

द्वारकाधीश मंदिर का इतिहास – द्वारका धाम – द्वारकापुरी

हिन्दू धर्म में चार दिशाओ के चारो धाम का बहुत बडा महत्व माना जाता है। और चारो दिशाओ के ये चारो धाम भारत में ही स्थित है। हिन्दू धर्म से जुडा हर व्यक्ति अपने जीवन में एक बार चारो दिशाओ के...

रामेश्वरम यात्रा – रामेश्वरम दर्शन – रामेश्वरम टेम्पल की 10 रोचक जानकारी

हिन्दू धर्म में चार दिशाओ के चार धाम का बहुत बडा महत्व माना जाता है। जिनमे एक बद्रीनाथ धाम दूसरा द्वारका धाम तीसरा जगन्नाथ धाम और चोथा रामेश्वरम धाम है। अपने एक पिछले लेख में हम बद्रीनाथ धाम का वर्णन कर...

त्रयम्बकेश्वर महादेव – त्रयम्बकेश्वर ज्योतिर्लिंग – त्रियम्बकेश्वर टेम्पल नासिक

त्रयम्बकेश्वर महादेव मंदिर महाराष्ट्र राज्य के नासिक जिले में स्थित है। नासिक से लगभग 30 किलोमीटर की दूरी पर त्रयम्बकेश्वर बस्ती है। इसी बस्ती में पहाड की तलहटी में गोदावरी नदी के तट पर त्रयम्बकेश्वर महादेव का मंदिर स्थित है। इस...

केदारनाथ धाम -केदारनाथ धाम का इतिहास रोचक जानकारी

प्रिय पाठको संसार में भगवान शिव  यूंं तो अनगिनत शिव लिंगो के रूप में धरती पर विराजमान है। लेकिन भंगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंगो का महत्व अधिक माना जाता जिनके विषय में शिवपुराण में वर्णित है कि भूतभावन भगवान शंकर प्राणियो...

नागेश्वर महादेव – नागेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर – नागेश्वर ज्योतिर्लिंग की कथा – नागेश्वर मंदिर की 10 रोचक जानकारीयां

नागेश्वर महादेव भगवान शिव के द्वादश ज्योतिर्लिंगो में से एक है। यह एक पवित्र तीर्थ है। नागेश्वर महादेव ज्योतिर्लिंग कहा है। यह एक विवादग्रस्त प्रश्न है। असली नागेश्वर महादेव कहा है? कुछ लोगो का मानना है की असली नागेश्वर ज्योतिर्लिंग हैदराबाद...

उज्जैन महाकाल – उज्जैन का महाकालेश्वर मंदिर – अवंतिका तीर्थ में सप्तपुरी,

भारत के मध्य प्रदेश राज्य का प्रमुख शहर उज्जैन यहा स्थित महाकालेश्वर के मंदिर के प्रसिद्ध मंदिर के लिए जाना जाता है। यह मंदिर उज्जैन महाकाल के नाम से भी प्रसिद्ध है। इस नगर को उज्जयिनी भी कहते है। इस स्थान...

यमुनोत्री धाम यात्रा – यमुनोत्री की कहानी – यमुनोत्री यात्रा के 10 महत्वपूर्ण टिप्स

भारत के राज्य उत्तराखंड को देव भूमी के नाम से भी जाना जाता है क्योकि इस पावन धरती पर देवताओ का वास रहा है यहा की पवित्र धरती के कण कण में देवता निवास करते है। यह राज्य पवित्र चार धाम...

शक्तिपीठ मंदिर कौन कौन से है – 51शक्तिपीठो का महत्व और कथा

भरत एक हिन्दू धर्म प्रधान देश है। भारत में लाखो की संख्या में हिन्दू धर्म के तीर्थ व धार्मिक स्थल है। इनमे से अनेको तीर्थ व धार्मिक स्थलो का हिन्दू धर्म में अधिक महत्व माना गया है। उनमे से 51 शक्तिपीठ...

वाराणसी (काशी विश्वनाथ) की यात्रा – काशी का धार्मिक महत्व

प्रिय पाठको अपनी उत्तर प्रदेश यात्रा के दौरान हमने अपनी पिछली पोस्ट में उत्तर प्रदेश राज्य के प्रमुख व धार्मिक महत्व वाले खुबसूरत शहर इलाहाबाद की यात्रा की थी औऱ इलाहाबाद के बारे विस्तार से जाना था। अपनी उत्तर प्रदेश पर्यटन...

इलाहाबाद का इतिहास – गंगा यमुना सरस्वती संगम – इलाहाबाद का महा कुम्भ मेला

इलाहाबाद उत्तर प्रदेश का प्राचीन शहर है। यह प्राचीन शहर गंगा यमुना सरस्वती नदियो के संगम के लिए जाना जाता है। यह  खुबसूरत शहर इसी संगम तट पर बसा है। इलाहाबाद का इतिहास इस बहुत पुराना और प्राचीन है। इलाहाबाद संगम...

मल्लिकार्जुन मंदिर की कहानी – मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग का इतिहास हिन्दी में

प्रिय पाठको पिछली ज्योतिर्लिंग दर्शन श्रृंख्ला में हमने महाराष्ट् के भीमाशंकर ज्योतिर्लिंग की यात्रा की और उसके इतिहास व स्थापत्य और उसकी कहानी के बारे में विस्तार से जाना है। इस पोस्ट मे हम बारहा ज्योतिर्लिंगों में से एक ओर महत्वपूर्ण...

कैलाशनाथ मंदिर कांचीपुरम – शिव पार्वती का नृत्य

भारत के राज्य तमिलनाडु के कांचीपुरम शहर की पश्चिम दिशा में स्थित कैलाशनाथ मंदिर दक्षिण भारत के सबसे प्राचीन और भव्य मंदिरो में से एक है। लाल बलुआ पत्थर से निर्मित यह मंदिर भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण द्धारा एक संरक्षित स्मारक है।...