प्रेशर कुकर का आविष्कार किसने किया और कब हुआ

प्रेशर कुकर का आविष्कार सन 1672 में फ्रांस के डेनिस पपिन नामक युवक ने किया था। जब डेनिस पपिन इंग्लेंड आए तो उन्हें प्रसिद्ध वैज्ञानिक सर-रॉबट बॉमल ने अपने यहां सहायक के रूप में रख लिया। पपिन बहुत ही प्रतिभाशाली व्यक्ति थे। उन्होंने ओर भी कई आविष्कार किए।

 

 

प्रेशर कुकर का आविष्कार किसने किया और कब हुआ

 

 

एक दिन प्रयोग करते समय पपिन के मस्तिष्क में विचार आया कि यदि पानी पर दाव बढाया जाए तो उसका क्वथनाक (Boiling point) बढना चाहिए। उन्होने थोडा-सा पानी एक विशेष वातरुद्ध बतन में लेकर उबाला। भाप रुकने से पानी का दबाव बढता गया। पेपिन ने देखा कि ऐसे बर्तन मे पानी को 100° से ग्रेड से अधिक तापमान पर उबाला जा सकेगा। इस प्रकार पानी के सामान्य क्वथनाक से अधिक तापमान पर खाद्य पदार्थ पकाने से वे बहुत ही कम समय मेंअच्छी तरह पक जाएगें। इस प्रकार-वायु का दबाव बढ़ने के साथ ही क्वथनाक भी बढ़़ता है। इसी गुण को प्रेशर कुकर मे इस्तेमाल में लाया गया।

 

प्रेशर कुकर
प्रेशर कुकर

 

एक ऐसे बर्तन में भाप रोकना बहुत ही खतरनाक था जिसमें भाप की कही से भी निकासी न रहे। ऐसे बर्तन के भाप की शक्ति से धमाके के साथ टुकडे-टुकडे हो सकते थे। अतः पपिन ने बर्तन मे सुरक्षा वाल्व की युक्ति का उपयोग किया, ताकि अधिक दबाव की स्थिति में भाप सुरक्षा-वाल्व से बाहर निकल सके। सुरक्षा वाल्व
की जानकारी भी तब तक किसी को नही थी। पपिन ने ही इसका उपयोग पहली बार किया था। इस वाल्व की व्यवस्था से बर्तन की भाप खतरे की स्थिति पर पहुंचने से पहले ही बिना हानि पहुंचाए बाहर निकल जाती थी।

 

 

डेनिस पपिन ने अपने प्रेशर कुकर का नाम ‘डाइजस्टर’ (पचाने वाला) रखा। इसका करण यह था कि बर्तन में कड़े से कड़ा मांस या अन्य कडे़ खाद्य पदार्थ पकाने पर अल्प समय में ही मुलायम हो जाते थे। उच्च दाब पर भाप द्वारा पकने पर खाद्य पदार्थों के स्वाद ओर गुणों में कोई परिवर्तन नहीं होता था। इसके साथ ही समय और ईंधन भी कम लगता था।

 

 

आज तो बाजार में विविध आकार प्रकार के प्रेशर कुकर उपलब्ध हैं जिनसे थोडे ही समय में भोजन पक जाता है। ऊपर से दिखने में प्रेशर कुकर एक सामान्य बर्तन की तरह ही दिखायी देता है। इसके ढककन वाले भाग में अंदर की ओर एक रबर का गास्केट (छल्ला) लगा होता है। ढक्कन लगाने पर यह गास्केट बर्तन के किनारे पर अच्छी तरह बैठ जाता है और किनारे से भाप बाहर निकल नहीं पाती। ढककन के बीच मे एक छेद होता है, जिसमे एक भारी कीलनुमा दाब-नियंत्रक लगा रहता है। इसी में से भाप बनने पर सीटी की सी आवाज निकलती है, जिससे पता लग जाता है कि भाप बन गयी है साथ ही खाद्य पदार्थ भी पक गया है। ढक्कन के ऊपर एक ओर रबर का एक वाल्व भी लगा होता है, जो अधिक भाप बन जाने पर खुल जाता है।

 

 

हमारे यह लेख भी जरूर पढ़े:—

 

 

ट्रांसफार्मर
ए° सी० बिजली किफायत की दृष्टि से 2000 या अधिक वोल्ट की तैयार की जाती है। घर के साधारण कामों के Read more
डायनेमो सिद्धांत
डायनेमो क्या है, डायनेमो कैसे बने, तथा डायनेमो का आविष्कार किसने किया अपने इस लेख के अंदर हम इन प्रश्नों Read more
बैटरी
लैक्लांशी सेल या सखी बैटरी को प्राथमिक सेल ( प्राइमेरी सेल) कहते हैं। इनमें रासायनिक योग के कारण बिजली की Read more
रेफ्रिजरेटर
रेफ्रिजरेटर के आविष्कार से पहले प्राचीन काल में बर्फ से खाद्य-पदार्थों को सड़ने या खराब होने से बचाने का तरीका चीन Read more
बिजली लाइन
कृत्रिम तरीकों से बिजली पैदा करने ओर उसे अपने कार्यो मे प्रयोग करते हुए मानव को अभी 140 वर्ष के Read more
इत्र
कृत्रिम सुगंध यानी इत्र का आविष्कार संभवतः सबसे पहले भारत में हुआ। प्राचीन भारत में इत्र द्रव्यो का निर्यात मिस्र, बेबीलोन, Read more
कांच की वस्तुएं
कांच का प्रयोग मनुष्य प्राचीन काल से ही करता आ रहा है। अतः यह कहना असंभव है, कि कांच का Read more
घड़ी
जहां तक समय बतान वाले उपरकण के आविष्कार का प्रश्न है, उसका आविष्कार किसी वैज्ञानिक ने नहीं किया। यूरोप की Read more
कैलेंडर
कैलेंडर का आविष्कार सबसे पहले प्राचीन बेबीलोन के निवासियों ने किया था। यह चंद्र कैलेंडर कहलाता था। कैलेंडर का विकास समय Read more
सीटी स्कैन
सीटी स्कैन का आविष्कार ब्रिटिश भौतिकशास्त्री डॉ गॉडफ्रे हान्सफील्ड और अमरीकी भौतिकविज्ञानी डॉ एलन कोमार्क ने सन 1972 मे किया। Read more
थर्मामीटर
थर्मामीटर का आविष्कार इटली के प्रसिद्ध वैज्ञानिक गेलिलियो ने लगभग सन्‌ 1593 में किया था। गेलिलियो ने सबसे पहले वायु का Read more
पेनिसिलिन
पेनिसिलिन की खोज ब्रिटेन के सर एलेक्जेंडर फ्लेमिंग ने सन् 1928 में की थी, लेकिन इसका आम उपयोग इसकी खोज Read more
स्टेथोस्कोप
वर्तमान समय में खान पान और प्राकृतिक के बदलते स्वरूप के कारण हर मनुष्य कभी न कभी बिमारी का शिकार Read more
क्लोरोफॉर्म
चिकित्सा विज्ञान में क्लोरोफॉर्म का आविष्कार बडा ही महत्त्वपूर्ण स्थान रखता है। क्लोरोफॉर्म को ऑपरेशन के समय रोगी को बेहोश करने Read more
मिसाइल
मिसाइल एक ऐसा प्रक्षेपास्त्र है जिसे बिना किसी चालक के धरती के नियंत्रण-कक्ष से मनचाहे स्थान पर हमला करने के Read more
माइन
सुरंग विस्फोटक या लैंड माइन (Mine) का आविष्कार 1919 से 1939 के मध्य हुआ। इसका आविष्कार भी गुप्त रूप से Read more
मशीन गन
एक सफल मशीन गन का आविष्कार अमेरिका के हिरेम मैक्सिम ने सन 1882 में किया था जो लंदन में काम कर Read more
बम का आविष्कार
बम अनेक प्रकार के होते है, जो भिन्न-भिन्न क्षेत्रों, परिस्थितियों और शक्ति के अनुसार अनेक वर्गो में बांटे जा सकते Read more
रॉकेट
रॉकेट अग्नि बाण के रूप में हजारों वर्षो से प्रचलित रहा है। भारत में प्राचीन काल से ही अग्नि बाण का Read more
पैराशूट
पैराशूट वायुसेना का एक महत्त्वपूर्ण साधन है। इसकी मदद से वायुयान से कही भी सैनिक उतार जा सकते है। इसके Read more