पिंजौर गार्डन – पिंजौर गार्डन हिस्ट्री इन हिन्दी

पिंजौर भारत के हरियाणा राज्य का एक प्राचीन शहर है। जो यहा स्थित पिंजौर गार्डन के लिए प्रसिद्ध है। यह शहर राजधानी चंडीगढ से मात्र 22 किलोमीटर की दूरी पर चंडीगढ- शिमला राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित है। इस शहर पिंजौर के इतिहास से कई किंवदंतियां जुडी हुई है। कहा जाता है कि पांडव अपने वनवास के दौरान कुछ समय यहा रहे थे। इसलिए इसे “पंचपुरा” के नाम से भी जाना जाता है। वैसे पिंजौरा का निर्माण 17 वी शताब्दी में पंजाब के तत्कालीन गवर्नर फिदाई खान ने करवाया था।

इस नगर में प्राचीन मुगल सम्राज्य सहित पटियाला शाही खानदान की कई यादें बिखरी हुई है। वर्तमान समय में पिंजौर एक आकर्षक पर्यटन स्थल का दर्जा हासिल कर चुका है। पिंजौर का यादविंदा उद्यान यहां के पर्यटन स्थलो में देशभर में प्रसिद्धि है। जिसे पिंजौर गार्डन के नाम से भी जाना जाता है। जिसे देखने के लिए दूर दूर से सैलानी यहा आते है। अपने इस लेख में हम पिंजौर उद्यान की यात्रा करेगें और पिंजौर गार्डन हिस्ट्री इन हिन्दी और पिंंजौर गार्डन की अन्य महत्वपूर्ण जानकारियो के बारे में विस्तार से जानेगें।

 

पिंजौर गार्डन के सुंदर दृश्य
पिंजौर गार्डन के सुंदर दृश्य

 

 

पिंजौर गार्डन हिस्ट्री इन हिन्दी

पिंजौर गार्डन चंडीगढ भारत का आकर्षक स्थल

 

पिंजौर उद्यान

चंडीगढ का पिंजौर यादविंदा गार्डन जिसे पिंजौरा गार्डन के नाम से भी जाना जाता है।  इस गार्डन का निर्माण औरंगजेब ने अपने शासनकाल के दौरान करवाया था।

कहा जाता है कि औरंगजेब के मातहत फिदाई खान को यहा की खुबसूरती इस कदर भा गई की उसने यहा रहने की ठान ली और इसका निर्माण कार्य पूरा होते ही, वह अपनी बेगम के साथ यहा रहने आ गया था।

पिंजौरा गार्डन को किसी समय मुगल गार्डन भी कहा जाता था। वास्तव में यह गार्डन मुगल वास्तुशिल्प कला का अद्भुत नमूना है। मुगल शैली से निर्मित इस गार्डन में हरी मखमली घास और रंग बिरंगे फूल पर्यटको को बरबस ही आकर्षित करते है।

बाग के मध्य में स्थित झरने भी बेहद खुबसूरत है। इस बाग परिसर के भीतर बने शीश महल, रंग महल, और जल महल यहा के प्रमुख आकर्षणो में से एक है। शीश महल को जहां फिदाई खान का दरबार कहा जाता है। वहा उसके सामने बने एक और सुंदर भवन को रंग महल कहा जाता है। रंग महल फिदाई खान की बेगमो के मनोरंजन स्थल के रूप में जाना जाता है। जल महल फिदाई खान की बेगमो का स्नानगार के रूप में जाना जाता है। यहा आने वाले देशी विदेशी पर्यटक इन खुबसूरत महलो की सुदंरता को निहारते रह जाते है।

हमारे यह लेख भी जरूर पढे:–

रोज गार्डन चंडीगढ

कालका माता मंदिर पंचकुला

कुरूक्षेत्र के दर्शनीय स्थल

मनसा देवी मंदिर मनीमाजरा

 

पिंजौर गार्डन के सुंदर दृश्य
पिंजौर गार्डन के सुंदर दृश्य

 

पिंजौर गार्डन के अलावा पिंजौर में पर्यटको के मनोरंजन के लिए यहा एक फ्लाइन क्लब भी है। इस क्लबमे ग्लाइडर उडान का प्रशिक्षण दिया जाता है। देश विदेश से आए पर्यटक यहा ग्लाइडर उडान का प्रशिक्षण प्राप्त करते है।

 

पिंजौर कहां है और पिंजौर कैसे जाएं

पिंजौर हरियाणा और पंजाब की राजधानी चंडिगढ से 22 किलोमीटर दूर चंडीगढ शिमला राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित है। यहां पहुंचने के लिए आपको चंडीगढ पहुचना पडता है। चंडीगढ भारत का एक प्रमुख शहर होने के कारण हवाई मार्ग, रेल मार्ग और सडक मार्ग द्वारा भारत के सभी प्रमुख शहरो से जुडा हुआ है। चंडीगढ पहुंचने के बाद आप यहा से बस, या टैक्सी द्वारा पिजौर आसानी से पहुंच सकते है।

 

कहां ठहरे

पिंजौर में ठहरने के लिए कई छोटे बडे होटलो सहित हरियाणा राज्य पर्यटन विभाग के होटल भी अच्छी सुविधा के साथ उपलब्ध है। चंडीगढ के करीब होने के कारण अधिकतर पर्यटक चंडीगढ के होटलो में ठहरते है।

 

 

पिंजौर गार्डन चंडीगढ, पिंजौर गार्डन हिस्ट्री इन हिन्दी आदि शीर्षको पर आधारित हमारा यह लेख आपको कैसा लगा आप हमे कमेंट करके बता सकते है। यह जानकारी आप अपने दोस्तो के साथ सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते है। यदि आप हमारे हर एक नए लेख की सूचना ईमेल के जरिए पाना चाहते है तो आप हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब भी कर सकते है।

Add a Comment