कुल्लू मनाली (बर्फ से अठखेलियाँ) कुल्लू मनाली दर्शनीय स्थल – kullu manali tourist place

कुल्लू मनाली पर्यटन :- अगर आप इस बार मई जून की छुट्टियों में किसी सुंदर हिल्स स्टेशन के भ्रमण की प्लानिंग कर रहे है या अभी अभी शादी के बंधन में बंधे है और अपने पार्टनर के साथ हनीमून प्लानिंग बना रहे है तो हिमाचल राज्य की राजधानी शिमला से लगभग 250 किलोमीटर की दूरी पर स्थित कुल्लू मनाली आपके लिए छुट्टियां बिताने और हनीमून  सैर के लिए इससे अच्छा स्थान भारत देश में अपको कहीं ओर नहीं मिलेगा ।

कुल्लू मनाली टूरिस्ट पैलेस

 

देश विदेश से लाखों पर्यटक यहाँ  प्राकृतिक सौंदर्य , बर्फ की चादर ओढ़ चोटिया ,सेब बागानों के मनोरम दृश्यों के साथ साथ बर्फ पर अठखेलियाँ का आनंद उठाने साल भर यहाँ आते है।

मनाली समुद्र तल से 1950 मीटर की ऊचाई पर स्थित है ।
मनाली कुल्लू जिले का एक हिस्सा है ।कुल्लू मनाली में देखने योग्य अनेक व्यू प्वाइन्ट ,धार्मिक स्थल तथा खेल क्रिड़ा का आनन्द लेने के लिए  अनेकों स्थान उपलब्ध है
सोलांग घाट कुल्लू मनाली
यह सुंदर घाटी व्यास कुंड के पास स्थित है । यह मनाली भ्रमण का मुख्य केंद्र है पर्यटक यहाँ पर पैरालाइडिंग ,जारविंग और खुडसवारी का लुत्फ़ उठाते है । सर्दियों में यहाँ विंटर स्किइंग फेस्टिवल का आयोजन होता है । देश विदेश से हजारों प्रतिभागी इस फेस्टिवल में भाग लेने आते है । यहाँ पहाड़ की चोटी पर एक शिव मंदिर भी स्थित है । पर्यटक यहाँ दर्शन करने जाते है ।

मनाली से लगभग 51 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यह दर्रा दुनियाभर में प्रसिद्ध है। यह मनाली लेह सडक मार्ग पर पडता है ।4111मीटर की ऊचाई पर बसा यह स्थान हिमालय का प्रमुख दर्रा है । इसका पुराना नाम भृगु-तुंग है । अब इसे रोहतांग कहा जाता है । यह दर्रा मौसम के अचानक अत्यधिक बदलावों के कारण भी जाना जाता है । पूरे साल यहाँ बर्फ की चादर बिछी रहती है । पर्यटक यहाँ बर्फ में अठखेलियाँ करने का लुत्फ़ उठा सकते है । रोहतांग दर्रे में स्काईंग और ट्रेकिंग की अपार संभावनाएं है।

व्यास कुंड:-

यह पवित्र कुंड व्यास नदी का जल स्त्रोत है । व्यास नदी में झरने के समान यहाँ से पानी बहता है । यहाँ का पानी एकदम साफ ओर इतना ठंडा होता है कि उंगलियों को सुन कर देता है । इसके चारों ओर पत्थर ही पत्थर है वनस्पतिया बहुत कम है।

 

नाग्गर किला:-

यह किला मनाली के दक्षिण में स्थित पाल सम्राज्य का स्मारक है । चट्टानों पत्थरों और लकड़ी की कलाकृतियों के मिश्रण से बना यह किला अतिसुन्दर दिखाई पड़ता है । बाद में इस किले को एक होटल में परिवर्तित कर दिया गया।

शिमला के पर्यटन स्थल

वाटर और एडवेंचर स्पोर्ट्स:-

कुल्लू घाटी में अनेक जगह है जहाँ फिशिंग करने का लुफ्त उठाया जा सकता है । इन जगहो में पिरडी, रापसन, कसोल नागर और जिया प्रमुख है । इनके साथ ही व्यास नदी में राफ्टिंग का मजा लिया जा सकता है । इन सबके अलावा यहाँ ट्रेकिंग भी की जा सकती है।

जलवायु:-

मनाली का मौसम शरद ऋतु में अधिक ठंडा रहता है । शरद ऋतु में यहाँ का तापमान न्यूनतम -15 डिग्री सेल्सियस से अधिकतम 05 डिग्री सेल्सियस रहता है । गर्मी के मौसम में यहाँ का तापमान न्यूनतम 04 डिग्री सेल्सियस से अधिकतम 20 डिग्री सेल्सियस तक बना रहता
कैसे पहुँचे:-
कुल्लू मनाली के नजदीक के रेलवे स्टेशन चंडीगढ़ शिमला जोगिन्दर नगर है जो देश के प्रमुख स्टेशनों से जुड़े है। सडक मार्ग से टैक्सी और लग्जरी बसे सरकारी बसे दिल्ली चंडीगढ़ और आसपास के प्रमुख शहरों से सीधे मनाली के लिए चलती है । कुल्लू के नजदीक के हवाई अड्डा भंतुर कुल्लू से 10 किलोमीटर और मनाली से 50 किलोमीटर दूर है ।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *