अरूणाचल प्रदेश प्रकृति की खूबसूरत वादियों मे मजा लें

खिलखिलाते फूल, बर्फ की सफेद चादर से ढंकी पहाडों की चमचमाती चोटी, खूबसूरत वादियां, जंगल के पत्तों की सरगोशियां, तंग जगहों से पानी का घुमावदार बहाव, बौद्ध साधुओं के भजन की पावन ध्वनि और उनका अतिथि सत्कार। अगर वाकई आप इन सब चिजों के बीच है, तो यकीन जानिए, आप अरूणाचल प्रदेश में है। भारत के हिल स्टेशन में अरूणाचल प्रदेश के हिल स्टेशन एक खास भूमिका अदा करते है। ऐसे मे अगर आप इन सर्दियों में हिल स्टेशन घूमने का प्लान कर रहे है, तो आप अरूणाचल प्रदेश जा सकते है। विविध प्रकार की वनस्पति और जीवजंतु अरूणाचल प्रदेश की मुख्य विशेषता है। वास्तव मे इस अरूणाचल प्रदेश की यात्रा एक जादुई अहसास कराती है। और दिल मे हमेशा हमेशा के लिए जगह बना लेती है।

 

 

अरूणाचल प्रदेश आर्किड फूलोंं का स्वर्ग

 

 

 

अरूणाचल प्रदेश को भारत का आर्किड स्वर्ग भी कहते है। यहां लगभग 500 से ज्यादा प्रजाति के आर्किड पाएं जाते है। जो कि भारत में पाएं जाने वाली आर्किड प्रजाति का लगभग आधा है। उनमें से कुछ दुर्लभ व संकटग्रस्त प्रजाति के आर्किड भी है।

 

 

 

अरूणाचल प्रदेश पर्यटन के सुंदर दृश्य
अरूणाचल प्रदेश पर्यटन के सुंदर दृश्य

 

 

 

ईटानगर किलो का शहर

 

 

 

अरूणाचल प्रदेश की राजधानी ईटानगर भी हिल स्टेशन मे काफी प्रसिद्ध है। यह इलाका कई ट्रैकिंग के लिए जाना जाता है। ईटानगर में सर्दियों में घूमने का अलग ही मजा है। ईटानगर में पर्यटक ईटा किला भी देख सकते है। इस किले का निर्माण 14-15 वी शताब्दी मे किया गया था। इसके नाम पर ही इसका नाम ईटानगर रखा गया है। यहां स्थित ईटानगर का किला पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है। इसके अलावा गोम्पा बौद्ध मंदिर, ईटानगर संग्रहालय जैसे यहां कई आकर्षण है। यहां जाने के लिए गुवाहाटी से पर्यटक हवाई सफर या फिर बस सफर को चुन सकते है

 

 

 

पासीघाट वाटर स्पोर्ट्स

 

 

पासीघाट अरूणाचल प्रदेश राज्य के पूर्वी सियांग जिले में 1911 के दौरान स्थापित किया गया एक नगर है। पर्यटकों के बीच यह जगह वाटर स्पोर्ट्स के लिए काफी पॉपुलर है। समुद्रतल से 155 मीटर की ऊंचाई पर बने पासीघाट की मनोरम पहाडियोंं में घूमना काफी अच्छा लगता है। फोटोग्राफी के लिए सिआंग नदी के किनारे घनी हरियाली का नाजारा बहुत ही खूबसूरत लगता है। यहां जंगली वन्यजीव अभ्यारण्य, मॉलिंग नेशनल पार्क और जेनगिंग आदि रोमांचक जगहें है।

 

 

 

विश्व धरोहर स्थल जीरो

 

 

 

अगर आप विश्व धरोहर स्थल और खूबसूरत हिल स्टेशन घूमना चाहते है, तो फिर अरूणाचल प्रदेश का जीरो एक अच्छी जगह साबित होगा। जीरो का सुंदर पाइन ग्रोव बेहद खूबसूरत पिकनिक स्थल है। जीरो हिल स्टेशन इटानगर से 115 किलोमीटर के दायरे मे फैला है। यह जितना ज्यादा खूबसूरत है उतना ही पर्यटकों की भीड कम होने से शांत रहता है। इतना ही नही जीरो मे ब्यूटी हाई एल्टीट्यूड फिश फार्म देखे जा सकते है।

 

 

 

तवांग रहस्यमयी और जादुई खूबसूरती

 

 

 

तवांग भारत के अरूणाचल प्रदेश में पहाड़ों के बीच में बसा है। तवांग काफी छोटा जिला है। लेकिन इसकी रहस्यमयी और जादुई खूबसूरती देखते ही बनती है। यहां की सुंदर वादियों में घूमने का एक अलग ही मजा है। यहां सूर्योदय के समय निकलने वाली पहली कारणों के बीच बर्फ से ढकी चोटियां बेहद खूबसूरत लगती है। यहां पर पर्यटकों को घूमने के दौरान धर्म और संस्कृति का एक अनोखा रूप देखने को मिलता है।

 

 

 

अरूणाचल प्रदेश मे एडवेंचर टूरिज्म

 

 

 

अगर आपको एडवेंचर पसंद है तो फिर अरूणाचल प्रदेश में आपके लिए काफी अवसर है। ट्रैकिंग, रीवर राफ्टिंग और फिसिंग यहां की प्रमुख एडवेंचर गतिविधियां है। अरूणाचल प्रदेश के कई स्थान ट्रैकिंग के लिए काफी प्रसिद्ध है। यहां ट्रैकिंग करने का सबसे अच्छा समय अक्टूबर से मई तक रहता है। रीवर राफ्टिंग ट्रिप का आयोजन कमेंग, सुबनसिरी, दिबांग और सियांग नदी पर किया जाता है। साथ ही एंगलिंग उत्सव का आयोजन भी पूरे राज्य में होता है

अरूणाचल प्रदेश पर्यटन के सुंदर दृश्य